How to use make up

      एक औरत के लिए मेकअप लगाने की कला कितना आवश्यक है यदि उसे मेकअप करने नहीं आता है तो वह अपनी सुंदरता  को नहीं दिखा सकती है ।मेकअप कैसे करें यह जानने के लिए निन्नलिखित विधियों को अपनाएं--

सुविज्ञता से लगाया गया मेकअप एक बदसूरत महिला को भी सुंदर बना सकता है।
मेकअप की उचित युक्तियां मुख के दोषों पर आवरण डालती हैं और प्राकृतिक सौंदर्य को उभारती हैं।

यह निश्चित करें कि आपको अपनी कौन सी विशेषता को दबाना है और किसे उभारना है ।अपने चेहरे को दर्पण के सामने और पार्श्व चित्र में ध्यान पूर्वक अध्ययन करें और स्वयं निर्णय करें कि कहां दोष निवारक मेकअप की आवश्यकता है।

 मेकअप में प्रयोग होने वाली सामग्रियों का जानकारी प्राप्त करने के लिए नीचे का लिंक देखें
Make up tips
याद रखें कि बहुत कम लोग सर्वोत्तम रूप लेकर पैदा होते हैं, अधिकतर लोगों के कुछ अच्छे और बुरे गुण होते हैं और जो यह जानते हैं कि बुरे गुणों पर किस प्रकार आवरण  डालना है, वही लोग सौंदर्य प्रतियोगिता में विजेता बनते हैं।
यदि आप भी उन्हीं कुछ भाग्यवान लोगों में शामिल होना चाहते हैं तो नीचे दिए गए संकेतों का पालन करें

            1--    ठुड्डी--

A_दोहरी ठुड्डी ------सामान्य फाउंडेशन का रंग लगाएं इसके बाद हल्का शेड लेकर ठुड्डी के उपयुक्त हिस्से पर  थपकें और ठुड्डी के ठीक चारो ओ मिलाएं ।

B_ढलवा ठुड्डी------ सामान्य फाउंडेशन का रंग लगाएं ।इसके बाद निचले होंठ से थोड़ा नीचे प्राकृतिक गड्ढे में पतली रेखा हल्के रंग के फाउंडेशन की लगाएं ।अच्छी तरह मिलाएं। बाकी चेहरे पर लगाए जाने वाले पाउडर से हल्के शेड का पाउडर लगाएं।

C--बाहर निकली हुई ठुड्डी----- ठुड्डी पर गहरा फाउंडेशन लगाएं। पाउडर का शेड समान ही लें ।

D-तीखी ठुड्डी-----  ठुड्डी  की नोक के चारों ओर हल्का फाउंडेशन थपकें और फाउंडेशन के रंग में मिलाएं  बाकी चेहरे पर लगाए जाने वाले पाउडर से एक शेड हल्का पाउडर लगाएं।
             

   2-होंठ-------


A-- मोटे होंठ--- प्राकृतिक रूप रेखा के अंदर ही रंग भरकर और बाकी स्थान को फाउंडेशन क्रीम से ढक कर होठ को पतला दिखाया जा सकता है ।
B--छोटे होठ---- दोनों होठों के किनारों को विस्तार दें ।


C--होठों का असमान आकार--- अच्छे किनारों को सहारा देने के लिए असमान किनारों की दोबारा आकार दें और लिपस्टिक को भरें।
D-- ऊपरी होंठ जोकि निचले होंठ के ऊपर चढ़ा हो---- निचले होंठ को चौड़ा और लंबा करके उभारें और हल्का सा ऊपरी होंठ के लटके हुए किनारों में भरें और आकार देकर भरें।
            3-     आंखें---
A-पास पास स्थित आंखें--- ऊपरी पलक के ऊपर आईशैडो लगाएंऔर आंख के बाहरी कोने की ओर ऊपरी तथा बाहरी ओ शैडों को तब तक मिलाएं जब तक कि शैडो नाक और आंख के स्थान पर अत्यधिक हल्का ना हो जाए और बाहरी कोने पर गहरा रहें। इसके बाद आइब्रो पेंसिल से आंख के आंतरिक कोने से दूर एक रेखा खींचे और बाहरी कोने तक इसे विस्तार दें ।रेखाओं को मिलाएं कि शैडों की तरह यहआंतरिक कोनों पर हल्की और बाहरी कोने पर गहरी हो। दोनों भौहों में ट्बीजिंग के द्वारा  दूरी बढ़ाएं ताकि उन में बड़ा अंतर लगे ।
               B--  धंसी आंखें-----
ऊपरी पलक  के कोटरों के  ठीक ऊपर हल्के रंग का फाउंडेशन प्रयोग करें और फाउंडेशन के रंग में मिलाएं। आईशैडो का उपयोग करें क्योंकि यह धसी आंखों को और धंसा हुआ आभास देगा।
C--ढलकी आंखें ---
आईलाइनर को ऊपर और बाहर की ओर झुकाव देकर इन्हें उठा हुआ दिखा सकते हैं। शैडों को ऊपर की ओर लगाना चाहिए और आंखों के बाहरी कोने वाले स्थान से बचें।
D--गोल आंखें----
आंख के बाहरी कोने तक आईशैडो को बढा कर उन्हें बड़ा दिखाया जा सकता है।
E--फूली आंख----
गहरे शैडों का प्रयोग करें और ऊपरी पलकों के मुख्य हिस्से के ऊपर इसे ध्यान पूर्वक लगाएं ।भौहों की रेखा तक इसे हल्केपन से ले जाएं ।F- छोटी आंखें ----
दो प्रकार के शैडों का प्रयोग करके इन्हें बड़ा दिखाया जा सकता है ।पलकों के आसपास भूरा शैडो प्रयोग  करें।
G---- आंखोंके नीचे के गड्ढे--
बिना फेंटे अंडे की सफेदी के बिल्कुल पतली परत उंगलियों की सहायता से उस स्थान पर लगाएं ।इसे सूखने दें उसके बाद मेकअप फाउंडेशन को इसके ऊपर बहुत ध्यान पूर्वक लगाएं। आंखों के नीचे का लकीरों वाला स्थान अंडे की सफेदी के सुखाने वाले प्रभाव के कारण अस्थाई रूप से भर जाएगा परंतु अंडे की सफेदी हटाने के बाद इस स्थान पर तेल जरूर लगाएं क्योंकि अंडे की सफेदी त्वचा पशुपालन सूखापन लाती है इसे 3 घंटे से अधिक त्वचा पर कदापि लगाएं ।
H---आंखों के नीचे कालापन--
अपने सामान्य मेकअप में ह ल्के फाउंडेशन का उपयोग करके कालेपन को छुपाए।

 रक्ताल्पता के कारण भी सुंदरता प्रभावित होती है रक्ताल्पता क्या है इसकी जानकारी के लिए नीचे का लिंक पढ़ें

Anaemia in hindi


4.     चेहरा-- A--लंबा संकीर्ण  चेहरा---
रूज को गाल की हड्डी के पीछे से के रेखा तक एक लगभग सीधी रेखा में लगाएं। यह समतल प्रभाव पैदा करके चेहरे की चौड़ाई को बढ़ाएगा ।रू को नाक के पास तक ना लाएं अन्यथा चौड़ाई का प्रभाव समाप्त हो जाएगा ।B--चौकोर चेहरा-- यदि रूज को गाल की हड्डी की ओर लंबे त्रिकोण में फैलाया जाए तो यह अंडाकार आकार का प्रभाव देगा।
C--खोखले गाल-- रूज को गड्ढे में लगाने की अपेक्षा यदि रू को गड्ढे के बाहर लगाया जाए तो गाल फूले और गोल प्रतीत होंगे। यह किया गड्ढे में पड़ने वाली प्राकृतिक छाया को प्रभावहीन कर देती है और उन्हें देखने में फूला
 और गोल दिखाती है।
D--अंडाकार चेहरा-- आंखों के नीचे बीचों बीच गाल की हड्डी की लंबाई में  रूज का बिंदु लगाएं। इसे ऊपर और बाहर की तरफ मिलाएं जब तक की चौड़ाई अस्पष्ट होकर गायब न हो जाए।
E--गोल चेहरा--रूज को नाक के पास काफी अच्छी तरह रखें ।आंख के ऊपरी कोने की ओर सुस्पष्ट लंब कोण में मिलाए जिससे कि लंबाई का प्रभाव पैदा हो।
5.     कान--
A--बड़े कान-- कानों पर गहरा फाउंडेशन लगाएं जो कि उन्हें अस्पष्ट दिखाएगा और चौड़े कर्णफूल पहने जो आपके कान की लौ को पकड़कर रखें और उन्हें ढक दें।
6.     माथा--
 चौड़ा माथा-- गहरे फाउंडेशन को गाल की हड्डी के ठीक नीचे, पलकों के ऊपर और नाक के ऊपरी भाग पर प्रयोग करें।यह बाकी चेहरे को भरे पन का आभास देगा और फूलने के प्रभाव को कम करेगा।
छोटा माथा-- माथे पर हल्का फाउंडेशन लगाएं ताकि भौहों  और केस रेखा के बीच का अंतर चौड़ा दिखाई दे।
7.     नाक--
चौड़ी नाक-- चौड़ी नाक को पतला करने के लिए गहरे फाउंडेशन का प्रयोग करें। नथुनों के ऊपर की ओर नाक की हड्डी की दिशा में मिलाएं। बाकी चेहरे पर लगाए जाने वाले पाउडर से एक शेड गहरा पाउडर नाक पर लगाएं।
लंबी नाक ---पहले सामान्य फाउंडेशन लगाएं ।गहरा फाउंडेशन नाक के आधार पर लगाएं और ऊपर की ओर मिलाएं तथा नाक के अग्र भाग पर समाप्त करें।
पतली नाक--- नथुनों से नाक की हड्डी की तरफ ऊपर और नीचे गति करते हुए सामान्य फाउंडेशन लगाएं। बाकी चेहरे पर लगाए जाने वाले पाउडर से 1 शेड हल्का फाउंडेशन नाक पर लगाएं ।
सपाट नाक-- सामान्य फाउंडेशन का रंग लगाने के बाद हल्के रंग का फाउंडेशन नाक के बीच में बिल्कुल सीधा, नाक की हड्डी के ठीक ऊपर तक और नाक के अग्र भाग के ठीक नीचे तक लगाएं, सामान्य पाउडर लगाएं।
8.     गर्दन--
छोटी और मोटी गर्दन-- चेहरे पर लगाने वाले फाउंडेशन से गहरा फाउंडेशन नाक पर प्रयोग करें ताकि गर्दन पतली दृष्टिगोचर हो।
लंबी और पतली गर्दन--- चेहरे पर लगाने वाली फाउंडेशन से हल्का फाउंडेशन गर्दन पर लगाएं यह भरे पन का प्रभाव पैदा करेगा जिससे गर्दन बहुत पतली नहीं लगेगी।
9-- चकत्ते-- चकत्तों को हल्का करने के लिए और अपने आप को कृमि लुक देने के लिए प्राकृतिक रंग से थोड़ी हल्के रंग की फाउंडेशन का प्रयोग करें इसके बाद सामान्य फेस पाउडर को चेहरे पर लगाएं।
10. आयु रेखा-- आयु रेखा और झुरियों को छिपाने के लिए फाउंडेशन क्रीम को समान रुप से बाहरी और गोलाई में संचालन करते हुए त्वचा पर लगाएं
11. मुहासे और दाग-- यदि यह दिखाई देते हैं तो बाकी चेहरे पर लगाए जाने वाले रंग से एक रंग गहरा रंग लगाकर छुपाएं इस स्थान पर यह  रंग  और किनारों की तरफ बाकी फाउंडेशन में मिलाएं इसके बाद सामान्य पाउडर को लगाएं।
12. थका चेहरा-- आपके माथे के मध्य में बहुत हल्का सा रू आपके चेहरे की थकावट को दूर कर देगा।
. भाप देना और लेप लगाना---
मास्क चेहरे के संरक्षक का वह प्रकार है जो कम समय में त्वचा को ताजा कर देता है। यह उपचार आपके चेहरे की सुंदरता की सबसे विश्वसनीय सुरक्षा करता है।
अपने बाल बांधे। इ सके बाद अपनी त्वचा को चावल के आटे और क्रीम से साफ करें ।1 टेबल स्पून चावल के आटे में पेस्ट बनाने लायक क्रीम मिलाएं और एक चुटकी हल्दी पाउडर डालें। चेहरे और गर्दन पर इसकी मालिश करें। चेहरे पर इसे तब तक रगडे जब तक कि चेहरा चमकने ना लगे और चेहरे पर से सारा पेस्ट नीचे ना गिर जाए।
आपके पास चावल का आटा नहीं है तो चने का आटा बेसन प्रयोग करें।
ठंडे पानी से धोकर थपककर सुखाएं। अब नरिसिंग क्रीम लें और गर्दन के मूल भाग में, गर्दन के सभी भागों पर, ठुड्डी पर, मुंह के चारों ओर, नाक, गालों और माथे पर लगाएं ।
मालिश करनी शुरू करें। अपनी हथेली से गर्दन की मालिश शुरू करें। नाक के मूल भाग से ठुड्डी तक ऊपर की ओर मालिश करें।
ऐसा 12 बार करें। इसके बाद अपनी सारी उंगलियों को एक दूसरे से जोड़े और ठुड्डी तक ऊपर की ओर मालिश करें।
यह रक्त परिभ्रमण को बढ़ाता है और झुर्रियों को हल्का करता है। अब अपने हाथ के पिछले हिस्से से ठुड्डी पर नीचे की ओर गति करते हुए मालिश करें ।इसके बाद ठुड्डी रेखा से शुरू करके चेहरे पर ऊपरी ओर गोलाई में कोमलता से गति करते हुए मालिश करें। जैसे ही आप मुख तक पहुंचे, अपनी दूसरी और तीसरी उंगली से गोलाई में गति करते हुए कोमलता से मालिश करें।
होठों पर भी इसी प्रकार मालिश करें। नाक पर अपनी पहली उंगली से गोलाई में गति करें ।अपने गालों पर उंगलियों से हल्की थपकियां दें ताकि इन स्थानों पर रक्त परिभ्रमण बढ़ाया जा सके।
आंखों के चारों गोलाई में गति करते हुए कोमलता से मालिश करेंः अपने माथे पर पहली उंगली से ऊपरी तथा बाहरी ओ गोलाई में गति करते हुए मालिश करें । यह चेहरे से तनाव हटाकर विश्राम उत्पन्न करता है ।
और अंत में अपनी उंगलियों के पोरों से सारे चेहरे पर थपकियां दें। अब चेहरे को भाप दें-
एक चौड़े मुंह के बर्तन में गर्म पानी लें और उस पर अपना चेहरा झुकाएं। अपने सिर पर तौलिया डालें, ताकि गर्माहट अधिक देर तक बनी रह सके। इसे खुशनुमा बनाने के लिए पानी में जड़ी बूटी या मनपसंद  परफ्यूम मिलाएं। 10 मिनट भाप लें।
भाप त्वचा के छिद्रों को खोलती है तथा उनमें से मैल हटाती है और त्वचा की सभी अशुद्धियों को साफ करती है ।
अब चेहरे पर गर्म पानी के छींटे दें और थपक कर सुखाएं।
इसके बाद फेस पैक लगाएं। 1 फेस पैक त्वचा की गहरी सफाई करता है, छिद्रों को शुद्ध करके रंग और बनाव को सुधारता है और विशेष रूप से त्वचा को चमकदार बनाता है।
जो आपकी त्वचा के अनुकूल हो उसी फेसपैक को चुने।
चिकनी त्वचा के लिए--- एक छोटा कसा हुआ खीरा, 2 टीस्पून दूध का पाउडर,1 अंडे की सफेदी मिलाकर पेस्ट बनाएं और चेहरे पर लगाएं।
2--सूखी त्वचा के लिए-- 1 टेबल स्पून मक्के के रस में बराबर मात्रा में गाजर का रस और 1 टी स्पून क्रीम मिलाकर पेस्ट बनाएं इस लेप की उच्च वसा, और प्रोटीन पदार्थ,  सूखी त्वचा पर प्रभावशाली ढंग से कार्य करते हैं और साथ ही स्वस्थ त्वचा के लिए आवश्यक निर्माण पदार्थ उपलब्ध कराते हैं।
 सामान्य त्वचा--- कुछ चुटकी कपूर, एक चम्मच दूध पाउडर, और बिना फेटे एक अंडे की सफेदी को मिलाकर पेस्ट बनाएं और त्वचा पर लगाएं। मिश्रित त्वचा--- एक फेटे हुए अंडे में 1 टेबल स्पून नींबू का रस मिलाकर चिकने स्थान पर रगड़ें। इसके बाद थोड़ा सा जिलेटिन, दूध की क्रीम में मिलाकर चेहरे की चिकने स्थानों पर लगाएं ।
भूरे पन को हल्का करना-- 1 टी स्पून सोयाबीन पाउडर को दही के साथ मिलाकर त्वचा पर लगाएं। यह रक्त संचरण को बढ़ाने और हल्के भूरे, मटियाले प्रभाव को चेहरे से हटाने में सहायता करता है ।यदि लेप हटाने के बाद आपको कोई सूखापन नजर आए तो थोड़ा सा तेल लगाएं।
 गहरा रंग-- टमाटर का गूदा और खीरे का गूदा समान मात्रा में एक साथ मिलाएं और त्वचा पर लगाएं ।
झुर्रियों वाली त्वचा-- स्ट्रॉबेरी को कुचलकर समान मात्रा में क्रीम मिलाएं ।यह त्वचा को कोमल और चिकना बनाता है।
 ढीली त्वचा-- बिना फेटे अंडे की सफेदी और एक टेबल स्पून दूध पाउडर और आधा टेबल स्पून शहद को मिलाकर चेहरे और गर्दन पर लगाएं ।इसे सूखने दें। इस पर एस्ट्रिंजेंट लगाएं और एक बार फिर सूखने दें।
 व्यक्ति का दुबलापन भी उसकी सुंदरता को प्रभावित करता है कुछ ही दिनों में अपने शरीर के वजन को कैसे बढ़ाएं इसकी जानकारी के लिए नीचे का लिंक देखें

वजन कैसे बढ़ाएं 15दिनों मे


 चेचक के दाग वाला चेहरा-- दही को एक चौथाई टीस्पून पिसे बादाम और इतनी मात्रा शहद को मिलाकर चेहरे और गर्दन पर लगाएं।
 यह लेप लगाने के बाद आंखों पर कुटी हुई बर्फ के पैड रखकर अंधेरे कमरे में विश्राम करें ।अपने बिस्तर पर सीधा लेटे रहें। आपके पैर आपके सर की तुलना में ऊपर उठे रहे। 10 मिनट बाद चेहरा धो दें।
 थपककर सुखाएं और त्वचा पर मॉइस्चराइजर लगाएं। अब अपने चेहरे को दर्पण में देखें। यह ताजा चमकता हुआ और जीवंत नजर आएगा ।उस दिन मेकअप का प्रयोग ना करें।
 सप्ताह में एक बार ऐसा करने से आपके चेहरे की युवावस्था सुरक्षित रहेगी।


Previous
Next Post »